शाहजहांपुर - पीएम मोदी शाहजहांपुर में 'किसान महारैली' को संबोधित करने आये सरकार न्यू इंडिया बनाने में जुटी कोई भी क्षेत्र हो दोगुनी गति से काम हो रहा है देश के 49 करोड़ परिवार को रौशन करने की हमारी योजना है - aaj ki satta - NATION WATCH - बदलते भारत की आवाज़ (MAGZINE) (UPHIN-48906)

Latest

Breaking News

कांग्रेस की सोच विकास विरोधी, बाड़मेर में बोले पीएम मोदी*मुंबई: 2019 अंडरवर्ल्ड जबरन वसूली कॉल मामले में दाऊद के भतीजे सहित 3 बरी*कौन क्या खा रहा इस पर राजनीति हो रही है: RJD नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी*कोयंबटूर: चुनाव प्रचार के दौरान NDA-INDIA ब्लॉक के कार्यकर्ताओं में झड़प, सात घायल*बेंगलुरु कैफे ब्लास्ट के आरोपियों को हमने 2 घंटे में गिरफ्तार कर लिया: ममता बनर्जी*मोस्ट वांटेड नक्सली कमांडर हिडमा की तलाश में जुटी IB और NIA टीम*'इस बार यूपी की सभी 80 लोकसभा सीट जीतेंगे', मुरादाबाद में बोले अमित शाह*मनीष सिसोदिया ने अदालत में लगाई अर्जी, चुनाव प्रचार के लिए मांगी अंतरिम जमानत || [Nation Watch - Magazine - Title Code - UPHIND-48906]

Nation Watch


Saturday, July 21, 2018

शाहजहांपुर - पीएम मोदी शाहजहांपुर में 'किसान महारैली' को संबोधित करने आये सरकार न्यू इंडिया बनाने में जुटी कोई भी क्षेत्र हो दोगुनी गति से काम हो रहा है देश के 49 करोड़ परिवार को रौशन करने की हमारी योजना है - aaj ki satta




हमारी सरकार न्यू इंडिया बनाने में जुटी हुई है, कई प्रोजेक्ट पर काम चल रहा है। कोई भी क्षेत्र हो दोगुनी गति से काम हो रहा है। शाहजहांपुर में भी इन योजनाओं से लाभ पहुंच रहा है। देश के 49 करोड़ परिवार को रौशन करने की हमारी योजना है





 शाहजहाँपुर : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को उत्तर प्रदेश के दौरे पर थे। पीएम मोदी शाहजहांपुर में 'किसान महारैली' को संबोधित करने आये थे। शाहजहांपुर के रोजा में ये रैली  हुई इस दौरान विपक्ष पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा आज जो किसानों के लिए घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं, उनके पास भी ये काम करने का मौका था. लेकिन, उनके पास किसानों के लिए काम करने की फुर्सत नहीं थी.' पीएम मोदी के अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी यहां पहुंचे हैं. योगी ने कहा कि यूपी में पहली बार किसानों को उनकी उपज के उचित दाम देने का काम किया गया है.बीजेपी के मुताबिक, 9 जिले के सवा लाख से ज्यादा किसान प्रधानमंत्री की इस रैली में जुटेंगे.

रोजा शाहजहाँपुर में प्रधानमंत्री मोदी की रैली के लिए जोरदार तैयारियां की गई हैं. सभास्थल पर वाटर प्रूफ टेंट लगवाया गया है. सुरक्षा के लिए 14 पुलिस अधीक्षक और 14 अपर पुलिस अधीक्षकों समेत तकरीबन 4000 पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है. इसके अलावा केन्द्रीय बल की 21 कंपनियां भी तैनात की गई हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ ने शाहजहांपुर में किसान कल्याण रैली को संबोधित किया पीएम मोदी ने कहा शाहजहांपुर के प्रांगण में कही जगह नजर नहीं आ रही, रैली में आए किसानों को नमन करता हूँ।

शहीदों की नगरी शाहजहांपुर के जनमन को मेरा प्रणाम, नमन। काकोरी से क्रांति की अलख जगाने वाली शहीदों और आपातकाल का डटकर सामना करने वालों को श्रद्धासुमन अर्पित करता हूं।

कांग्रेस सरकार के एक प्रधानमंत्री ने बहुत पहले कहा था कि दिल्ली से निकलने वाला एक रुपया गांव तक पहुंचते-पहुंचते 15 पैसे रह जाता है। यह बयान तब दिया गया था जब पंचायत से लेकर संसद तक उन्हीं के लोग थे। कौन सा पंजा था जो रुपये को घिसकर 15 पैसे कर देता था हमारी सरकार सीधे खाते में पैसा भेज रही है।

हमनें किसानों के खाते में सीधे पैसा ट्रांसफर कराया। जो पूराना बकाया है वो लगातार कम हो रहा है। आने वाले दिनों में बकाये की भुगतान गति और तेज होने वाली है।

किसानों के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाने वाले भी ऐसा कर सकते थे लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। हमारी सरकार ने तय किया है कि इस बार आप जो गन्ना बेचेंगे, उसका लाभकारी मूल्य 20 रुपये बढ़ाकर 275 रुपये प्रति कुंतल कर दिया।

धान, मक्का, दाल व तेल वाली 14 फसलों के सरकारी मूल्य में 200 रुपये से 1800 रुपये की बढ़ोतरी इतिहास में पहले कभी नहीं हुई है।

पिछली सरकार ने जो व्यवस्था बना रखी थी उसे तोड़ने का हम प्रयास कर रहे हैं। पुरानी सरकार ने जो बकाया छोड़ रखा था उसे हम पूरा काम करने का काम कर रहे हैं।

देश के हर किसान के पसीने का, श्रम का सम्मान हो, यही केंद्र की सरकार, उत्तर प्रदेश की सरकार की प्राथमिकता है। यही कारण है कि देश के गन्ना किसान परिवारों के हित में हाल में अनेक फैसले लिए गए हैं ।

किसान में वो ताकत होती है कि अगर किसान को पानी मिल जाए तो वो मिट्टी में भी सोना पैदा कर सकता है।चीनी के आयात पर 100 प्रतिशत शुल्क लगाया गया। 20 लाख टन चीनी निर्यात करने की अनुमति दे दी गई। चीनी के लिए न्यूनतम मूल्य तय किया गया ताकि चीनी मिल नुकसान का बहाना न बना पाए।

पहले पैसे चीनी मिल को दिए जाते थे। हमने रुपये सीधे किसानों के खाते में जमा किए। किसानों को उनका हक दिलाया। इन्हीं प्रयासों का असर है कि पुराना बकाया निरंतर कम होता जा रहा है। बकाए के भुगतान की गति और तेज होने वाली है।

गन्ने की पैदावार जब ज्यादा होती है तो किसानों का पैसा फंस जाता है। ऐसे में हमारी सरकार ने फैसला लिया है कि गन्ने से एथनॉल बनाने का काम किया जाएगा, इससे गाड़ी चलेगी।

जब आवश्यकता से अधिक चीनी की पैदावार होती है तो किसानों का पैसा फंस जाता है। इसलिए सरकार ने फैसला लिया कि गन्ने से सिर्फ चीनी ही नहीं, गाड़ियों के लिए ईंधन भी बनाया जाए।

चार वर्ष पहले भारत में 40 करोड़ लीटर से कम ऐथेनॉल पैदा होता था।
हमारी सरकार के आने के बाद लिए गए फैसलों से इस साल के अंत तक 160 करोड़ लीटर तक ऐथेनॉल का उत्पादन पहुंचेगा।

यही कारण है कि पांच करोड़ गन्ना किसानों के हित में अनेकों फैसले लिए गए हैं। आपके गन्ने का पूरा बकाया जल्द से जल्द मिले, इसके लिए अनेक प्रयास किए जा रहे हैं।

आजकल एक दल नहीं दल के साथ दल, दल के साथ दल हो रहा है और अब दल के साथ दल हो तो दलदल हो जाता है और जितना ज्यादा दलदल होता है उतना ज्यादा कमल खिलता है ।

मेरा गुनाह यही है कि मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहा हूं। परिवारवाद के खिलाफ पूरी ताकत से खड़ा हूं।

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बयान दिया की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सुनने के लिए जनपद शाहजहांपुर में आयोजित किसान कल्याण रैली में किसानों का उमड़ा जनसैलाब मोदी जी के प्रति अपार स्नेह एवं उत्साह से लबालब है उत्तर प्रदेश की जनता

आज की सत्ता से सह-संपादक देवेन्द्र प्रताप सिंह कुशवाहा की रिपोर्ट

No comments:

Post a Comment

If you have any type of news you can contact us.

NATION WATCH -->