कासगंज कांड : सिपाही देवेन्‍द्र के पिता बोले-बेटा शहीद हुआ है, इसका बदला चाहिए - NATION WATCH (MAGZINE) (UPHIN-48906)

Latest

Breaking News

AAP नेता आतिशी और सौरभ भारद्वाज दोपहर 12 बजे करेंगे प्रेस वार्ता*ज्ञानवापी: व्यास तहखाने में जारी रहेगी पूजा-पाठ, इलाहाबाद HC कोर्ट का फैसला*आज भी ED के सामने पेश नहीं होंगे अरविंद केजरीवाल*पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना में TMC पंचायत नेता की गोली मारकर हत्या*पश्चिम बंगाल पुलिस का एक्शन, TMC नेता अजीत मैती गिरफ्तार*PM नरेंद्र मोदी ने पुण्य तिथि पर वीर सावरकर को दी श्रद्धांजलि* [Nation Watch - Magzine - Title Code - UPHIND-48906]

Nation Watch


Wednesday, February 10, 2021

कासगंज कांड : सिपाही देवेन्‍द्र के पिता बोले-बेटा शहीद हुआ है, इसका बदला चाहिए

कासगंज में शराब माफियाओं के हमले में मारे गए सिपाही देवेन्‍द्र का परिवार पोस्‍टमार्टम हाउस पहुंचा। परिवार ने जिलाधिकारी से मुलाकात की। इस दौरान देवेन्‍द्र के पिता ने कहा,'मेरा एक ही बेटा था। 2015 में पुलिस में भर्ती हुआ था और 2017 में उसकी शादी हुई थी। बेटा शहीद हुआ है। इसका बदला लेना चाहिए।'

देवेन्‍द्र के मारे जाने की खबर पहुंचने के बाद आगरा के डौकी थाना क्षेत्र के नगला बिंदू गांव में मातम पसरा है। देवेन्‍द्र और इस गांव के तीन अन्‍य युवक 2015 में एक साथ यूपी पुलिस के लिए चुने गए थे। देवेन्‍द्र के पिता महावीर सिंह किसान हैं। देवेन्‍द्र उनके इकलौते बेटे और परिवार की उम्‍मीद थे। शराब माफियाओं ने उनका कत्‍ल कर परिवार से यह उम्‍मीद छीन ली। देवेन्‍द्र की छोटी बहन प्रीति की शादी मई में तय है। देवेन्‍द्र की शहादत की खबर मिलते ही गांव में मातम पसर गया था। हर शख्‍स देवेन्‍द्र को याद कर रहा है। देवेन्‍द्र अपने गांववालों से काफी घुलेमिले थे। वह जब भी गांव आते तो गांव के नौजवानों से मिलते-जुलते उन्‍हें पुलिस में भर्ती होने के टिप्‍स देते। देवेन्‍द्र की शहादत की खबर कासगंज में तैनात उनके एक दोस्‍त सिपाही ने परिवार को फोन पर दी। इसके बाद कुछ रिश्‍तेदारों और गांव के कुछ लोगों के साथ पिता महावीर सिंह कासगंज के लिए रवाना हो गए। 


2016 में हुई थी शादी
देवेन्‍द्र की अभी 2016 में ही शादी हुई थी। पत्नी का नाम चंचल है। पति की मौत की खबर से पत्नी को गहरा धक्का लगा है। उनकी हालत किसी से देखी नहीं जा रही है। दो बेटियां हैं। बड़ी बेटी वैष्णवी तीन साल की है। छोटी बेटी महज चार माह की है।

ये हुई थी घटना
गौरतलब है कि मंगलवार की देर शाम कासगंज में शराब माफिया ने दुस्‍साहिक वारदात को अंजाम दिया। कुर्की के लिए नोटिस चस्पा करने गए दारोगा अशोक कुमार सिंह और सिपाही देवेंद्र कुमार को शराब माफिया मोतीराम ने पकड़ लिया। इस दौरान पीट-पीटकर सिपाही को मौत के घाट उतार दिया गया, जबकि दारोगा की हालत गंभीर बनी हुई है। दोनों गांव से डेढ़ किलोमीटर दूर खेत में बंधक मिले। दारोगा पर भाला से हमला किया गया है, जबकि सिपाही के सिर पर भी वार किया गया। देर रात कई थानों की फोर्स के साथ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे। अधिकारी समन तामील के लिए रवानगी की भी बात कह रहे हैं।

No comments:

Post a Comment

If you have any type of news you can contact us.

NATION WATCH -->