श्रीनगर- महबूबा के खिलाफ बगावत - NATION WATCH (MAGZINE) (UPHIN-48906)

Latest

Breaking News

राहुल की भारत जोड़ो न्याय यात्रा में शामिल होंगे कमलनाथ* जयपुर: झोटवाड़ा इलाके में PNB बैंक में फायरिंग, बैंक मैनेजर घायल* हरियाणा के किसानों का फसली लोन पर ब्याज और जुर्माना माफ- CM खट्टर* कांग्रेस के युवराज ने काशी के युवाओं को नशेड़ी कहा- पीएम मोदी ने राहुल पर साधा निशाना* मोदी की गारंटी, मतलब काम पूरा होने की गारंटी: वाराणसी में बोले PM*समाजवादी पार्टी के बाहुबली नेता उदय भान सिंह की जमानत याचिका पर SC में 5 अप्रैल को सुनवाई*वाराणसी दौरे पर प्रधानमंत्री मोदी ने किया रोड शो, सीएम योगी भी रहे साथ*बिहार विधान परिषद की 11 सीटों के लिए 21 मार्च को चुनाव*जयपुर: सवाई मानसिंह अस्पताल में शख्स को चढ़ाया गलत ग्रुप का ब्लड, मौत*पश्चिम बंगाल: फरार शाहजहां शेख के खिलाफ सड़कों पर उतरा पूरा गांव* [Nation Watch - Magzine - Title Code - UPHIND-48906]

Nation Watch


Monday, July 2, 2018

श्रीनगर- महबूबा के खिलाफ बगावत





श्रीनगर : पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पी.डी.पी.) की शर्मिंदगी के लिए पूर्व मुख्यमंत्री और पी.डी.पी. अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती की नीतियों को मुख्य कारण करार देते हुए वरिष्ठ पी.डी.पी. नेता और विधायक  आबिद हुसैन अंसारी ने पार्टी के नेतृत्व पर पक्षपात का आरोप लगाया।   श्रीनगर के जडीबल इलाके में जनसभा को संबोधित करते हुए आबिद ने दोहराया कि उन्होंने गठबंधन के अंत से पहले महबूबा मुफ्ती द्वारा लिए गए कई फैसलों को चुनौती दी थी।

आबिद पी.डी.पी.-भाजपा सरकार पर जमकर बरसे और पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा अपनाई गई नीतियों की आलोचना की। वह पी.डी.पी. और भाजपा के शासन के दौरान किए गए काम या अपनाई गई नीतियों से संतुष्ट नहीं है। आबिद जो शिया एसोसिएशन के महासचिव भी है ने महबूबा मुफ्ती पर उनकी जल्दबाजी की नीतियों के लिए दोषी ठहराया और पार्टी के लिए उनके फैसले को विषम करार दिया। वहीं, समारोह से इतर पत्रकारों के साथ बातचीत में आबिद ने कहा कि पी.डी.पी. के उपाध्यक्ष सरताज मदनी नीतियों के बारे में अनजान हैं और पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा लिए गए फैसले भी गलत नीतिय का परिणाम थे।

नेताओं ने सीएम को गुमराह किया

उन्होंने पार्टी नेताओं पर गलत सलाहों के साथ पूर्व मुख्यमंत्री को गुमराह करने का आरोप लगाया। पूर्व आर.एण्ड.बी. मंत्री नईम अख्तर और पूर्व मुख्यमंत्री के राजनीतिक सचिव पीर मंसूर हुसैन ने उनकी गलत सलाहों से महबूबा मुफ्ती को गुमराह किया जिसके बाद गलत नीतियों और फैसलों को तैयार किया गया। हालांकि, कई नेताओं ने समय पर महबूबा को अवगत कराया लेकिन उन्होंने उनके द्वारा दिए गए विचारों को नजरअंदाज कर दिया। पी.डी.पी. विधायक ने आरोप लगाया कि पिछली सरकार भाईचारे और पक्षपात में फंस गई थी जिससे उनके प्रियजनों को शीर्ष पद उपलब्ध कराए गए।

कांग्रेस के साथ पीडीपी का भविष्य नहीं
कांग्रेस के साथ सरकार गठन के बारे में पूछे जाने पर आबिद ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के पास सिर्फ 12 सदस्य है। इसके अलावा कांग्रेस का कश्मीर में कोई आधार नहीं है, तो पी.डी.पी. कांग्रेस के साथ हाथ मिलाकर कितनी दूर जा सकती है?

केन्द्र से वार्ता की अपील
आबिद ने केन्द्रीय सरकार द्वारा कश्मीर पर पाकिस्तान के साथ वार्ता प्रक्रिया में शामिल होने पर बल दिया ताकि कश्मीर में नागरिक हत्याओं को रोका जा सके। उन्होंने कहा कि यह बेहद अन्यायपूर्ण है कि यदि कोई आतंकी रैंकों में शामिल हो जाता है तो पूरे परिवार को सामना करना पड़ता है।
आज की सत्ता न्यूज़- ब्यूरो श्रीनगर 

No comments:

Post a Comment

If you have any type of news you can contact us.

NATION WATCH -->