आधार कार्ड अनिवार्य और चुनावी चंदे में गोपनीयता : अनिल शर्मा - NATION WATCH (MAGZINE) (UPHIN-48906)

Latest

Breaking News

[Nation Watch - Magzine - Title Code - UPHIND-48906]

Nation Watch


Monday, July 30, 2018

आधार कार्ड अनिवार्य और चुनावी चंदे में गोपनीयता : अनिल शर्मा




झांसी। सरकार जहां एक ओर आधार कार्ड को अनिवार्य कर रही है वहीं राजनैतिक दलों को मिलने वाले चुनावी चंदे के बारे में गोपनीयता की बात कर रही है। चुनावी बांड के बारे में लोगों को जानकारी मिलनी ही चाहिए। यह बात यूपी इलैक्शन वॉच के प्रदेश समन्वयक अनिल शर्मा ने कही। वह बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के पत्रकारिता विभाग में एडीआर एवं यूपी इलेक्शन वॉच के तत्वावधान में पत्रकारिता विभाग और समाज कार्य विभाग के प्रयास से आयोजित चुनावी बांड पारदर्शिता बनाम गोपनीयता विषयक संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे।
श्री शर्मा ने कहा कि इस बांड के जरिए सरकार नए प्रकार की मुद्रा पैदा कर रही है। इसके जरिए सिर्फ व्यक्ति व राजनैतिक दल के बीच लेन-देन हो सकेगा। इसमें राजनैतिक दलों को भी इस काम से छूट दे दी गई है कि वे इस बात को रिकॉर्ड करें कि उन्हें चंदा देने वाला कौन है? इसका मतलब है कि कोई भी माफिया,अपराधी किसी भी दल को धन का सहयोग कर सकता है। सिर्फ उसे बांड खरीदकर सरकार की शर्त पूरी करनी होगी। उन्होंने कहा कि जनता को अधिकार है कि उन्हें इस बात की जानकारी दी जानी चाहिए कि चंदा कहां से आया है। उन्होंने मांगपत्र बनाकर जन दबाव बनाने पर भी जोर दिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे पत्रकारिता विभाग के विभागाध्यक्ष डा.सीपी पैन्यूली ने छात्र-छात्राओं को अपने अधिकारों के प्रति जागरुक होने की बात कही। उन्होंने कहा कि भावी पत्रकार होने के नाते यह उनका दायित्व बनता है। कहा कि जनता के सेवक कहे जाने वाले जन प्रतिनिधि के अधिकारों के बारे में जानकारी रखते हुए हम उनसे विकास कार्यां के लिए दबाव बना सकते हैं। समाज कार्य विभाग के प्राध्यापक डा.मोहम्मद नईम ने कहा कि पारदर्शिता की बात करते हुए राजनैतिक दल अपने आप को बचाने में लगे हैं। एक रक्षा सौदे के मामले में उन्होंने कहा कि एक ओर 500 रुपए की रिश्वत लेने वाले को भ्रष्टाचारी कहते हुए जेल में डाला जाता है तो वहीं दूसरी ओर करोड़ों की दलाली करने वालों के बारे में जनता जान भी नहीं सकती। उन्होंने कहा कि मतदाता की चुप्पी इसका प्रमुख कारण है। सुविख्यात कवि अर्जुन सिंह चॉद ने अपनी कविता के माध्यम से वर्तमान समस्याओं को उजागर किया। मुदित चिरवारिया ने जन सूचना अधिकार की जानकारी देते हुए राजनैतिक दलों को भी इसके दायरे में लाने की वकालत की। जिला संयोजक महेश पटैरिया ने संचालन करते हुए युवाओं को अपने सेवकों के कार्यां और अधिकारों के प्रति सचेत रहने को कहा। मतदाताओं के अधिकारों पर प्रकाश डालते हुए डा. उमेश शुक्ला ने आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में अभिनव गुप्ता व मृदुला श्रीवास्तव समेत कई छात्र-छात्राओं ने अपनी जिज्ञासाएं व्यक्त की। कार्यक्रम में शशिशेखर दुबे,मयंक श्रीवास्तव,अभिभावक छात्र वासुदेव शरण दुबे समेत तमाम लोग उपस्थित रहे।

रिपोर्ट: उदय नारायण कुशवाहा (झांसी)

No comments:

Post a Comment

If you have any type of news you can contact us.

NATION WATCH -->