मंदसौर गैंगरेप की जांच में खुलासा, पूरी प्‍लानिंग के साथ आरोपियों ने की हैवानियत - NATION WATCH (MAGZINE) (UPHIN-48906)

Latest

Breaking News

[Nation Watch - Magzine - Title Code - UPHIND-48906]

Nation Watch


Sunday, July 1, 2018

मंदसौर गैंगरेप की जांच में खुलासा, पूरी प्‍लानिंग के साथ आरोपियों ने की हैवानियत

मंदसौर गैंगरेप की जांच में खुलासा, पूरी प्‍लानिंग के साथ आरोपियों ने की हैवानियत

मंदसौर-प्रदेश के मंदसौर में 7 साल की मासूम बच्‍ची के साथ ‘निर्भया’ जैसी हैवानियत के आरोपियों ने इस खौफनाक वारदात को अंजाम देने से पहले पूरी प्‍लानिंग की हुई थी और लंबे समय तक स्‍कूल के मासूम बच्‍चों पर नजर रखी थी।पुलिस जांच में खुलासा हुआ है कि आरोपियों ने जानबूझकर उस बच्‍ची को चुना जो कम उम्र की हो और रेप का विरोध न कर सके।इस बीच गैंगरेप की इस घटना ने पूरे देश को हिला दिया है और दोषियों को फांसी की सजा देने की मांग तेज हो गई है।इससे पहले शुक्रवार को मंदसौर पुलिस ने गैंगरेप की घटना के दूसरे आरोपी को अरेस्‍ट कर लिया।इस मामले में पकड़े गए पहले आरोपी इरफान (20) ने पुलिस पूछताछ में बताया कि बच्ची से बलात्कार की वारदात में उसके साथ मंदसौर के मदरपुरा का रहने वाला आसिफ भी शामिल था।इसके बाद पुलिस ने इस मामले के दूसरे आरोपी को भी धर दबोचा।उधर, मासूम बच्‍ची अभी भी हॉस्पिटल में जिंदगी और मौत से जूझ रही है।उसकी कई सर्जरी की गई है मंदसौर पुलिस ने अपने चौंका देने वाले खुलासे में बताया कि आरोपियों ने बच्‍ची के बर्बरता की पूरी प्‍लानिंग की थी।यही नहीं उन्‍होंने गैंगरेप के बाद काफी देर उन वस्‍तुओं की तलाश की जिससे उसके प्राइवेट पार्ट्स को नुकसान पहुंचाया जा सके।गला काटने के बाद वे लोग कथित रूप से शराब पी रहे थे।जबकि बच्‍ची का खून बह रहा था।मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आरोपियों को दरिंदा करार देते हुए शुक्रवार को कहा,‘ये दरिंदे धरती पर बोझ हैं,ये धरती पर जीवित रहने के लायक नहीं हैं।’ उन्‍होंने कहा,‘बलात्कार के मामलों में हमने प्रदेश में फास्ट ट्रैक अदालत में कार्यवाही करने के प्रावधान किए हैं।सुप्रीम कोर्ट और हाई कोर्ट से भी इस प्रकार के प्रावधान करने का अनुरोध किया है।ताकि इस तरह के अपराध करने वाले आरोपियों के खिलाफ शीघ्र अदालती कार्यवाही कर उन्हें फांसी की सजा दी जा सके।’।मुख्यमंत्री ने कहा, ‘यह दर्दनाक घटना है, हम पीड़ित परिवार के साथ हैं और पीड़िता की हालत पर लगातार ध्यान दे रहे हैं। उसकी हालत में सुधार हो रहा है और मैं डाक्टरों के संपर्क में हूं।’ उन्होंने कहा कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है तथा उसके खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं। इस मामले को फास्ट ट्रैक अदालत में चलाया जाएगा और हम यह सुनिश्चत करेंगे कि आरोपी को शीघ्र फांसी की सजा दिलवाई जा सके।एसपी मनोज सिंह ने दूसरे आरोपी के बारे में कहा,‘एक स्‍कूली बच्‍चे ने लड़की का अपहरण करने वाले दूसरे आरोपी को देखा था।वह नारंगी रंग की टी-शर्ट पहने हुए था। सीसीटीवी फुटेज में इरफान को नीले रंग की शर्ट पहने देखा गया था।जांच के दौरान इरफान ने स्‍वीकार किया कि उसने अपने मित्र आसिफ के साथ मिलकर इस हैवानियत की साजिश रची थी।हमने उसे तत्‍काल अरेस्‍ट कर लिया।’एक जांच अधिकारी ने बताया कि आसिफ और इरफान दोनों अपना ज्‍यादातर समय शराब पीने और स्‍थानीय पार्क में महिलाओं को छेड़ने में अपना समय बिताते थे।इस बार उन्‍होंने ऐसी बच्‍ची को शिकार बनाने का फैसला किया जो विरोध न कर सके।आरोपियों ने पूरी प्‍लानिंग की और बच्‍चों की टोह ली।27 जून को उन्‍होंने इस वारदात को अंजाम देने का फैसला किया।उन्‍होंने बताया कि शाम करीब 5 बजे आसिफ स्‍कूल के गेट के पास घूमने लगा और मासूम बच्‍ची पर नजर रखने लगा।उसने कैंडी और स्‍नैक्‍स देकर उसे लालच दिया कि अगर वह उसके साथ चलेगी तो और ज्‍यादा मिलेगा।बच्‍ची आसिफ के साथ चल दी और बाद में इरफान भी उसके साथ मिल गया।वे लोग बच्‍ची को एक सुनसान जगह पर ले गए और करीब दो घंटे तक गैंगरेप किया।इसके बाद इरफान और आसिफ ने बर्बरता की शुरुआत की।इसके बाद उन्‍होंने बच्‍ची का गला काट दिया और मरने के लिए छोड़ दिया। बच्‍ची रातभर जिंदा रही और सुबह करीब 10 बजे ग्रामीणों ने उसे देखा।एसपी ने बताया कि सबूतों को इकट्ठा करने के लिए 15 सदस्‍यीय जांच दल बनाया गया है और जल्‍द से जल्‍द चार्जशीट तैयार करेंगे।
 आज की सत्ता 

No comments:

Post a Comment

If you have any type of news you can contact us.

NATION WATCH -->