कंगना रनौत ने दिया वसीम रिजवी का साथ कहा - स्टैंड लेना जरूरी - NATION WATCH (MAGZINE) (UPHIN-48906)

Latest

Breaking News

AAP नेता आतिशी और सौरभ भारद्वाज दोपहर 12 बजे करेंगे प्रेस वार्ता*ज्ञानवापी: व्यास तहखाने में जारी रहेगी पूजा-पाठ, इलाहाबाद HC कोर्ट का फैसला*आज भी ED के सामने पेश नहीं होंगे अरविंद केजरीवाल*पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना में TMC पंचायत नेता की गोली मारकर हत्या*पश्चिम बंगाल पुलिस का एक्शन, TMC नेता अजीत मैती गिरफ्तार*PM नरेंद्र मोदी ने पुण्य तिथि पर वीर सावरकर को दी श्रद्धांजलि* [Nation Watch - Magzine - Title Code - UPHIND-48906]

Nation Watch


Monday, March 15, 2021

कंगना रनौत ने दिया वसीम रिजवी का साथ कहा - स्टैंड लेना जरूरी

शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी ने हाल ही में सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की है। इसमें उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से मांग की है कि कुरान से 26 आयतों हटाने का आदेश दिया जाए। इसको लेकर मुसलमानों के बीच रिजवी को लेकर काफी ज्यादा नाराजगी देखने को मिल रही है। रिजवी के लगातार विरोध के बीच उन्हें फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत का समर्थन मिला है। कंगना ने कहा है कि रिजवी के साथ सख्ती से खड़ा होना जरूरी है।

क्या बोली हैं कंगना रनौत कंगना रनौत ने 'मैं वसीम रिजवी के साथ हूं' हैशटैग के साथ ट्वीट करते हुए लिखा है कि वसीम रिजवी की बात से साथ सहमत होना ही काफी नहीं है। एक राष्ट्र के तौर पर ये जरूरी है कि इस सच्चे राष्ट्रवादी की हिफाजत की जाए। अगर वसीम रिजवी को भी कमलेश तिवारी या किसी और की तरह चाकुओं से गोद दिया जाता है या गोली मार दी जाती है तो ये राष्ट्रवाद की मौत होगी।

सोशल मीडिया पर रिजवी के समर्थन में भी काफी लोग वसीम रिजवी का एक ओर कड़ा विरोध है तो वहीं सोशल मीडिया पर उनको समर्थन भी मिला है। कंगना के अलावा बॉलीवुड और टीवी एक्टर गजेंद्र चौहान ने भी वसीम रिजवी के पक्ष में ट्वीट किया है। ट्विटर पर #मैं वसीम रिजवी के साथ हूं, पर हजारों ट्वीट हुए हैं।

क्या है पूरा मामला और क्यों हो रहा विवाद शिया वक्‍फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दाखिल कर मांग की है कि कुरान में 26 आयतें ऐसी हैं जो आतंकवाद और जिहाद का समर्थन करती हैं। इन्हें बाद में कुरान में जोड़ा गया है। ऐसे में इनको कुरान से हटाया जाए। बता दें मुसलमान कुरान को आसमानी किताब मानते हैं, यानी एक ऐसी किताब जिसमें ईश्वर का संदेश है ना कि किसी इंसान की कही बातें इसमें हैं। मुसलमानों का मानना है कि कुरान के आने से आज तक ना इसमें एक शब्द हटा है और ना जुड़ा है और ना ही ऐसा हो सकता है। ऐसे में लखनऊ में रहने वाले रिजवी की मांग को लेकर मुसलमानों में आक्रोश है। शिया और सुन्नी दोनों फिरकों के लोगों ने बहुत सख्त एतराज रिजवी के इस कदम पर जताया है। देश में कई जगहों पर रिजवी के पुतले फूंककर भी मुस्लिमों ने प्रदर्शन किया है।

No comments:

Post a Comment

If you have any type of news you can contact us.

NATION WATCH -->