कही आपके फोन लिस्ट में तो नही अपने आप SAVE हुवा आधार हेल्पलाइन नंबर तुरन्त करे डिलीट । - NATION WATCH (MAGZINE) (UPHIN-48906)

Latest

Breaking News

राहुल की भारत जोड़ो न्याय यात्रा में शामिल होंगे कमलनाथ* जयपुर: झोटवाड़ा इलाके में PNB बैंक में फायरिंग, बैंक मैनेजर घायल* हरियाणा के किसानों का फसली लोन पर ब्याज और जुर्माना माफ- CM खट्टर* कांग्रेस के युवराज ने काशी के युवाओं को नशेड़ी कहा- पीएम मोदी ने राहुल पर साधा निशाना* मोदी की गारंटी, मतलब काम पूरा होने की गारंटी: वाराणसी में बोले PM*समाजवादी पार्टी के बाहुबली नेता उदय भान सिंह की जमानत याचिका पर SC में 5 अप्रैल को सुनवाई*वाराणसी दौरे पर प्रधानमंत्री मोदी ने किया रोड शो, सीएम योगी भी रहे साथ*बिहार विधान परिषद की 11 सीटों के लिए 21 मार्च को चुनाव*जयपुर: सवाई मानसिंह अस्पताल में शख्स को चढ़ाया गलत ग्रुप का ब्लड, मौत*पश्चिम बंगाल: फरार शाहजहां शेख के खिलाफ सड़कों पर उतरा पूरा गांव* [Nation Watch - Magzine - Title Code - UPHIND-48906]

Nation Watch


Saturday, August 4, 2018

कही आपके फोन लिस्ट में तो नही अपने आप SAVE हुवा आधार हेल्पलाइन नंबर तुरन्त करे डिलीट ।



देशभर के कई हजारों स्मार्टफोन्स में अपने आप ही अथॉरिटी यूआईडीएआई का ट्रोल फ्री नंबर सेव हो गया था जिसको लेकर अब एक नया विवाद खड़ा हो चुका है। । गूगल का इस बारे में कहना है कि उनसे अनजाने में सभी के फ़ोन में नंबर सेव हो गया लेकिन इससे किसी का भी एंड्रॉयड सिस्टम हैक नहीं हुआ है।

गूगल ने अपनी इस गलती के बारे में बयान देते हुए कहा कि उनके इंटरनल व्यू में सामने आया है कि 2014 में यूआईडीएआई और अन्य 112 हेल्पलाइन नंबर एंड्रॉयड के सेटअप विजार्ट में कोड दिए गए थे। ये नंबर जब एक बार किसी भी यूज़र की कांटेक्ट लिस्ट में आ जाते है तो उसके बाद जब यूज़र अपना फ़ोन भी बदलता है तो भी नंबर कांटेक्ट लिस्ट में रहता ही है।
गूगल ने अपने बयान में आगे कहा, "लोगों को हमारी वजह से जो परेशानी हुई है उसके लिए हमें खेद है। हम लोगों को ये भी आश्वस्त करते हैं कि किसी के भी एंड्राइड फ़ोन में अन ऑथराइज्ड एक्सेस नहीं है। इसका मतलब कि किसी का भी एंड्राइड डिवाइस हैक नहीं हुआ है। इस नंबर को यूज़र्स डिलीट भी कर सकते हैं। हम आने वाले मैनुअली डिलीट एंड्रॉयड सेटएप विजार्ट से इस नम्बर को हटाने का काम करेंगे।" आपको बता दें आधार नम्बर 1800-300-1947पुराने ट्रोल फ्री नंबर को 1947 से रिप्लेस कर दिया गया था।
ब्यूरो चीफ लखनऊ अनुज मौर्य

No comments:

Post a Comment

If you have any type of news you can contact us.

NATION WATCH -->