नई दिल्ली J&K में सरकार बनाने की तैयारी में कांग्रेस - NATION WATCH (MAGZINE) (UPHIN-48906)

Latest

Breaking News

राहुल की भारत जोड़ो न्याय यात्रा में शामिल होंगे कमलनाथ* जयपुर: झोटवाड़ा इलाके में PNB बैंक में फायरिंग, बैंक मैनेजर घायल* हरियाणा के किसानों का फसली लोन पर ब्याज और जुर्माना माफ- CM खट्टर* कांग्रेस के युवराज ने काशी के युवाओं को नशेड़ी कहा- पीएम मोदी ने राहुल पर साधा निशाना* मोदी की गारंटी, मतलब काम पूरा होने की गारंटी: वाराणसी में बोले PM*समाजवादी पार्टी के बाहुबली नेता उदय भान सिंह की जमानत याचिका पर SC में 5 अप्रैल को सुनवाई*वाराणसी दौरे पर प्रधानमंत्री मोदी ने किया रोड शो, सीएम योगी भी रहे साथ*बिहार विधान परिषद की 11 सीटों के लिए 21 मार्च को चुनाव*जयपुर: सवाई मानसिंह अस्पताल में शख्स को चढ़ाया गलत ग्रुप का ब्लड, मौत*पश्चिम बंगाल: फरार शाहजहां शेख के खिलाफ सड़कों पर उतरा पूरा गांव* [Nation Watch - Magzine - Title Code - UPHIND-48906]

Nation Watch


Monday, July 2, 2018

नई दिल्ली J&K में सरकार बनाने की तैयारी में कांग्रेस



नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर में भाजपा-पीडीपी गठबंधन टूटने के बाद अब एक बार फिर से राज्य में सरकार बनाने की कोशिशें तेज हो गई हैं। ऐसे में अटकलों का बाजार भी गर्म है कि आखिर राज्य में किसकी सरकार बनेगी। इन अटकलों के बीच जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री व पीडीपी की मुखिया महबूबा मुफ्ती की कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और सोनिया गांधी से मिलने की खबर है। महबूबा इन दिनों दिल्ली में हैं और वे सोनिया-राहुल से मुलाकात कर सकती है।
वहीं आज पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के घर कांग्रेस के पॉलिसी एंड प्लानिंग ग्रुप (पीपीजी) की बैठक हुई। इस बैठक में  डॉ कर्ण सिंह, पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम, राज्यसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता गुलाम नबी आजाद और अंबिका सोनी शामिल हुए। सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में जम्मू-कश्मीर पर भी चर्चा हुई। मंगलवार को भी कांग्रेस ने श्रीनगर में एक बैठक बुलाई है जिसमें जम्मू-कश्मीर कांग्रेस के नेता, सभी विधायक और पूर्व मंत्रियों को बुलाया गया है
विधायकों की संख्या में उलझी कांग्रेस-पीडीपी
89 सदस्यों वाली जम्मू-कश्मीर विधानसभा में सरकार बनाने के लिए 44  विधायकों की आवश्यकता है। जम्मू-कश्मीर विधानसभा में कांग्रेस के पास 12 विधायक हैं, जबकि पीडीपी के पास 28 विधायक। अगर कांग्रेस और पीडीपी साथ आ भी जाते हैं तो दोनों का कुल जोड़ 40 बनता है और ऐसे में उन्हें 4 और विधायकों की आवश्यकता होगी। तीन निर्दलीय विधायकों के अलावा एक विधायक सीपीआई-एम और एक विधायक जेकेपीडीएफ का है। वहीं महबूबा के सामने इस बात की समस्या खड़ी है कि कहीं भाजपा उसके विधायक तोड़ न दे। दूसरी तरफ कांग्रेस अगर महबूबा के साथ जाती है तो उसे पीडीपी की विरोधी नेशनल कांफ्रेस (एनसी) से अपना रिश्ता खत्म करना होगा या फिर उसे विश्वास में लेना होगा और यह दोनों ही काम कांग्रेस के लिए किसी चुनौती से कम नहीं हैं।
आजाद ने किया गठबंधन से इंकार
कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि भाजपा के समर्थन वापस लेने से सत्ता से बाहर हुई पीडीपी के साथ किसी तरह के गठबंधन का कोई प्रश्न ही नहीं उठता। वहीं उन्होंने पीडीपी के किसी नेता से मिलने से भी इनकार किया।
आज की सत्ता न्यूज़ 

No comments:

Post a Comment

If you have any type of news you can contact us.

NATION WATCH -->