आज की सत्ता न्यूज़ इंदौर- भय्यू महराज की आत्महत्या की जाँच शुरू,,,,,,, - NATION WATCH (MAGZINE) (UPHIN-48906)

Latest

Breaking News

राहुल की भारत जोड़ो न्याय यात्रा में शामिल होंगे कमलनाथ* जयपुर: झोटवाड़ा इलाके में PNB बैंक में फायरिंग, बैंक मैनेजर घायल* हरियाणा के किसानों का फसली लोन पर ब्याज और जुर्माना माफ- CM खट्टर* कांग्रेस के युवराज ने काशी के युवाओं को नशेड़ी कहा- पीएम मोदी ने राहुल पर साधा निशाना* मोदी की गारंटी, मतलब काम पूरा होने की गारंटी: वाराणसी में बोले PM*समाजवादी पार्टी के बाहुबली नेता उदय भान सिंह की जमानत याचिका पर SC में 5 अप्रैल को सुनवाई*वाराणसी दौरे पर प्रधानमंत्री मोदी ने किया रोड शो, सीएम योगी भी रहे साथ*बिहार विधान परिषद की 11 सीटों के लिए 21 मार्च को चुनाव*जयपुर: सवाई मानसिंह अस्पताल में शख्स को चढ़ाया गलत ग्रुप का ब्लड, मौत*पश्चिम बंगाल: फरार शाहजहां शेख के खिलाफ सड़कों पर उतरा पूरा गांव* [Nation Watch - Magzine - Title Code - UPHIND-48906]

Nation Watch


Friday, June 29, 2018

आज की सत्ता न्यूज़ इंदौर- भय्यू महराज की आत्महत्या की जाँच शुरू,,,,,,,




इंदौर २९ जून.भय्यू महाराज  की आत्महत्या की जांच कर रही पुलिस के पास एक 11 पन्नों का गोपनीय पत्र आया है जिसमे उनकी आत्महत्या के कारणों को बताया गया है . पुलिस इस पत्र और उसके आधार पर भी जाँच कर रही है . इंदौर रेंज के डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र के पास गुरुवार को एक पत्र पहुंचा, जिसमें लिखा था कि वह भय्यू महाराज का विश्वसनीय सेवादार है लेकिन मौत के भय से नाम उजागर करना मुमकिन नहीं है। वह महाराज की मौत का राज जानता है और जिम्मेदार को सजा भी दिलवाना चाहता है। गुप्त सेवादार के मुताबिक भय्यू महाराज पिछले दो साल से मानसिक तनाव में थे। डॉ. आयुषी से शादी के बाद वे अकेला महसूस करने लगे थे। उनकी दूसरी पत्नी ने निगरानी करना शुरू कर दिया था। वह आश्रम और घरों में होने वाली बैठकों की जानकारी लेने लगी थी। महाराज से जुड़े हर व्यक्ति और उनके पास आने वालों का हिसाब सेवादार और नौकरों से रखने लगी थी। वह महाराज की पहली पत्नी माधवी के बारे में चर्चा करने पर भड़क जाती थी। घर में लगी उसकी तस्वीरों को हटवा दिया था। उन्होंने कुहू से बात करने पर भी प्रतिबंध लगा दिया था। महाराज को कई बार करीबियों से छुपकर बातें करना पड़ती थी। डॉ.आयुषी ने मां रानी और पिता अतुल शर्मा को इंदौर बुलाया और सिल्वर स्प्रिंग फेज-2 में मकान दिलवा दिया। भाई अभिनव और चाचा उमेश शर्मा को आश्रम में काम पर लगवा दिया। उमेश तो आश्रम से 50 हजार रुपए महीना वेतन भी लेने लगा था। पत्र में यह भी लिखा है कि डॉ. आयुषी महाराज की प्रॉपर्टी (आश्रम और बंगले) हथियाना चाहती थी। इन सब वजहों से महाराज तनाव में रहने लगे। घर के माहौल के कारण उनकी बहनों और बहनोइयों ने आना बंद कर दिया। तनाव इतना बढ़ा की महाराज को आत्महत्या करना पड़ी। गोली की आवाज क्यों नहीं सुनाई दी – गुप्त सेवादार ने लिखा है कि घटना के कुछ देर पहले डॉ. आयुषी घर से कॉलेज गई थी लेकिन ऐनवक्त पर लौट आई। उस वक्त घर में कई सेवादार मौजूद थे लेकिन किसी ने भी गोली की आवाज नहीं सुनी। पत्र में घर और आश्रम की अंदरूनी बातों का जिक्र किया गया है। इससे यह बात स्पष्ट है कि पत्र लिखने वाला महाराज का करीबी या आश्रम व घर से जुड़ा व्यक्ति ही है।...
स्टेट ब्यूरो चीफ राजू मौर्य
मध्यप्रदेश
आज की सत्ता
अखिलेश मौर्या
न्यूज़ रिपोर्टर
इंदौर म. प्र

No comments:

Post a Comment

If you have any type of news you can contact us.

NATION WATCH -->